Mp board sensitive exam center एमपी बोर्ड परीक्षा में होंगे संवेदनशील परीक्षा केंद्र |

Mp board sensitive exam center एमपी बोर्ड परीक्षा में होंगे संवेदनशील परीक्षा केंद्र |

माध्यमिक शिक्षा मंडल(मा०शि०म०) की कक्षा दसवीं-बारहवीं बोर्ड परीक्षा में प्रदेश भर में साढ़े छह सौ 650 संवेदनशील व अतिसंवेदनशील परीक्षा केंद्र बनाए गए है । सबसे ज्यादा संवेदनशील परीक्षा केंद्र मुरैना जिले में होंगे इनकी संख्या 66 रहेगी, जबकि राजधानी में इनकी संख्या 19 रहेगी। इसके साथ बोर्ड परीक्षा में कोरोना लक्षण विद्यार्थियों के लिए परीक्षा केंद्र में अलग रूम बनाएं जाएंगे।

Mp board sensitive exam center एमपी बोर्ड परीक्षा में होंगे संवेदनशील परीक्षा केंद्र |


मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल ने मंगलवार को सभी सीईओ, संभागीय संयुक्त संचालक, जिला शिक्षा अधिकारी, समन्वयक संस्था के प्राचार्यों समेत परीक्षा से जड़े अधिकारियों की वीडियो कांफ्रेंसिंग आयोजित की गई। बैठक को संबोधित करते हुए सचिव माध्यमिक शिक्षा मंडल श्रीकांत बनोठ ने परीक्षा के संबंध में बताया। उन्होंने कहा कि कोविड के संक्रमण को देखते हुए परीक्षा केंद्रों पर अलग से रूम की व्यवस्था की गई है। किसी छात्र में कोरोना के लक्षण दिखते हुए, तो उन्हें अलग रूम में बिठाया जाएगा। साथ ही कोरोना टेस्ट कराने की सलाह दी जाएगी।

मंडल की तरफ से अधिकारियों को मिले 2 लाख रूपये


मंडल ने सैनेटाइजर व अन्य व्यवस्थाओं के लिए संभागीय स्तर पर दो-दो लाख रुपए व जिला कलेक्टर्स को डेढ़-डेढ़ लाख रुपए दिए है। वहीं, प्रदेश भर में कुल 3861 परीक्षा केंद्र बनाए गए है। इसमें सबसे 644 परीक्षा केंद्रों को संवेदनशील व अतिसंवेदनशील परीक्षा केंद्रों में रखा गया है। राजधानी में 19 संवेदनशील व अतिसंवेदनशील परीक्षा केंद्र बनाएं गए है।

दिव्यांग छात्रों को मिलेगी सुविधा


एमपी बोर्ड ने परीक्षा में शामिल होने वाले दिव्यांग या घायल छात्रों को कई राहत देने का फैसला किया है। पिछले साल तक मंडल द्वारा चार श्रेणी के छात्रों को छूट दी जाती थी। अब मंडल ने इसमें 11 श्रेणी के छात्रों को शामिल कर लिया है। इसमें दृष्टिहीन, मानसिक विकलांग एवं हाथ की हड्डी टूट जाने अथवा हाथ की खराबी के कारण लिखने में असमर्थ छात्रों को ये राहतें मिलेंगी।

शुरू हो चुकी है परीक्षाएं


मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल की 10वीं की परीक्षाएं 18 फरवरी से शुरू होकर 10 मार्च तक और 12वीं की परीक्षाएं 17 फरवरी से शुरू होकर 12 मार्च तक चलेंगी।


25 मार्च तक कराना होंगी प्रायोगिक परीक्षाएं


माध्यमिक शिक्षा मंडल ने बोर्ड परीक्षाओं में सम्मिलित होने वाले परीक्षार्थियों की प्रायोगिक परीक्षाएं आयोजित करने की नई तिथि घोषित कर दी हैं। अब संबंधित शिक्षण संस्थाओं को इन निर्धारित तिथियों में परीक्षाएं आयोजित कर ऑनलाइन ही ओएमआर शीट भरना होगी। मंडल द्वारा जारी नए आदेश के अनुसार नियमित छात्रों की प्रायोगिक परीक्षा 12 फरवरी से 25 मार्च के मध्य अध्ययनरत डांथा में ही ली जाएगी, वहीं स्वाध्यायी छात्रों की प्रायोगिक परीक्षा आवंटित परीक्षा केंद्र में 18 फरवरी से 20 मार्च के मध्य होगी।

रेगुलर छात्रों की होगी ऑनलाइन प्रविष्टि


नियमित छात्रों हेतु संबंधित अध्ययनरत संस्था द्वारा 30 मार्च तक ऑनलाइन प्रविष्टि करना होगी, वहीं स्वाध्यायी छात्रों की आवंटित परीक्षा केंद्र द्वारा 18 फरवरी से 25 मार्च के मध्य करना होगी। ऑनलाइन अंकों की प्रविष्टि उपरांत हार्ड कॉपी का लिफाफा एवं प्रायोगिक परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिका का बंडल जिला समन्वय संस्था में 31 मार्च तक जमा करना होगा। बोर्ड द्वारा ओमएमआर शीट नहीं भेजी जा रही है। आंतरिक मूल्यांकन एवं प्रायोगिक परीक्षा की ओएमआर शीट भरने की सुविधा 12 फरवरी से एमपी ऑनलाइन पर कराई जाएगी।

WWW.MPBOARDINFO.IN

MP Board Half yearly exam time table 2023: इस दिन आएगा अर्धवार्षिक परीक्षा का टाइम टेबल, यहां देखे जानकारी 

MP Board Results 2022 : म. प्र. बोर्ड 10वीं और 12वीं का रिजल्ट 20 अप्रैल को जारी होने की संभावना, परीक्षा में पूछे गलत सवालों के मिलेंगे बोनस अंक 

Leave a Comment