Mp board exam admit card news प्रवेश पत्र के लिए फीस देना जरूरी नहीं

Mp board exam admit card news प्रवेश पत्र के लिए फीस देना जरूरी नहीं – जाने पूरी खबर

भोपाल:- म०प्र० माध्यमिक शिक्षा मंडल (मा०शि०म०)की कक्षा दसवीं और कक्षा बारहवीं की परीक्षा आज अर्थात 17 फरवरी से शुरू हो रही है । कक्षा दसवींऔर कक्षा बारहवीं के विद्यार्थियों को प्रश्न-पत्र में पहली बार चालीस फीसदी नंबर के आब्जेक्टिव प्रश्न करने होगे | बोर्ड परीक्षा का आगाज बारहवीं में अंग्रेजी के पेपर के साथ होगा। वहीं, जिन विद्यार्थियों की फीस जमा नहीं हुई है, उन्हें भी स्कूलों को प्रवेश पत्र देना होंगे।

प्रवेश पत्र के लिए छात्रों को पूरी फीस देना ज़रूरी नहीं | Mp board exam admit card

म०प्र० माध्यमिक शिक्षा मंडल (मा०शि०म०) की कक्षा दसवीं और कक्षा बारहवीं की परीक्षा आज अर्थात 17 फरवरी से शुरू हो रही है । बारहवीं परीक्षा में कुल 7,14,932 परीक्षार्थी तथा दसवीं में कुल 10,66,791 परीक्षार्थी शामिल हो रहे हैं। हायर सेकेंडरी परीक्षा के लिए 3,586 व हाईस्कूल परीक्षा के राजधानी में दसवीं की परीक्षा में 31538 व चारहवीं में 24762 परीक्षार्थी शामिल होंगे। मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल की दसवी-बारहवीं परीक्षा के प्रश्न-पत्र का इस बार का पैटर्न बदला हुआ है। इस बार विद्यार्थियों को ४० नंबर के आब्जेक्टिव प्रश्न दिए गए हैं जबकि चालीस फीसदी नंबर के स्कूलसे प्राप्त होंगे। बीस नंबर के सैद्धान्तिक प्रश्न होंगे।

राजधानी के परीक्षा केंद्रों के पेपर नजदीकी थानों में पहुंचे


भोपाल:- म०प्र० माध्यमिक शिक्षा मंडल (मा०शि०म०)की कक्षा दसवीं और कक्षा बारहवीं के पेपर मंगलवार को पुलिस के साये में राजधानी के थानों में पहुंच गए है। मंगलवार को 10 रूटों से 53 परीक्षा केंद्रों के पेपर नजदीकी थानों में पहुंचा दिए गए है। राजधानी में कुल 104 परीक्षा केंद्र बनाए गए है। परीक्षा की तैयारियां पूर्ण हो चुकी है। परीक्षा में प्रश्न पत्र का पैटर्न इस बार बदला हुआ है। चालीस फीसदी नंबर के आब्जेक्टिव चालीस फीसदी नंबर के सम्बंक्टिव बीस नंबर के एनालिटिकल प्रश्न होंगे |

प्रवेश पत्र देने से मना नहीं कर सकते प्राइवेट स्कूल


मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल की दसवीं-बारहवीं परीक्षा के छात्रों की फीस जमा नहीं होने के बाद प्राइवेट स्कूल प्रवेश पत्र देने से मना नहीं कर सकते है। इस सम्बन्ध में जिला शिक्षा अधिकारी नितिन सक्सेना ने आदेश जारी कर दिए है। डीईओ सक्सेना का कहना है कि कुछ प्राइवेट स्कूलों की शिकायत मिली है की फीस जमा नहीं होने पर छात्रों को प्रवेश पत्र नहीं दिए जा रहे है। जिस स्कूलों के द्वारा ऐसा किया जा रहा है उनके विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी।

परीक्षा केंद्रों पर केवल महिला शिक्षक ही ले सकेंगी छात्राओं की तलाशी


परीक्षा केंद्र में प्रवेश से पूर्व छात्राओं को तलाशी वर्दीधारी कर्मचारियों द्वारा नहीं ली जाएगी। परीक्षा केंद्रों पर तलाशी लेने के लिए पर्यवेक्षकों में दो पुरुष शिक्षक और दो महिला शिक्षक जो निष्पक्षता एवं कड़ाई से प्रत्येक छात्र-छत्र की तलाशी लेने में सक्षम प्रतीत होते हैं, को ही केंद्राध्यक्षद्वारा स्वयं चयनित कर नियुक्त किया जाएगा। एक पुरुष एवं एक महिला पर्यवेक्षक भवन के प्रवेश द्वार पर तलाशी लेने के लिए नियुक्त किया जाएगा। परीक्षा प्रारंभ होने के पूर्व ही तलाशी की कार्यवाही पर नजर रखेंगे। दूसरी तलाशी प्रत्येक परीक्षा कक्ष के प्रभारी पर्यवेक्षकों द्वारा स्वयं परीक्षा प्रारंभ होने के पूर्व परीक्षा कक्ष के प्रवेश द्वार पर कड़ाई से कडाईपूर्वक ली जाए। दोनों संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा कड़े निर्देश दिए गए है । यदि छात्र-छात्राएं जूते मोजे, टोपी तथा जाकेट आदि पहनकर आए है, तो उसे जरूर उतरवाकर देख सकते हैं।

“बोर्ड परीक्षा के लिए TIPS & TRICKS के लिए यहाँ पर क्लिक करें। ”

WWW.MPBOARDINFO.IN

MP Board Half yearly exam time table 2023: इस दिन आएगा अर्धवार्षिक परीक्षा का टाइम टेबल, यहां देखे जानकारी 

MP Board Results 2022 : म. प्र. बोर्ड 10वीं और 12वीं का रिजल्ट 20 अप्रैल को जारी होने की संभावना, परीक्षा में पूछे गलत सवालों के मिलेंगे बोनस अंक 

Leave a Comment